नारी सम्मान योजना आवेदन फॉर्म रिजेक्ट होने पर ऑनलाइन आपत्ति दर्ज करें

नारी सम्मान योजना का आवेदन रिजेक्ट होने के बाद आपत्ति करने के लिए आपको नारी सम्मान योजना की ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर आपत्ति दर्ज करनी होगी इसके अलावा आप 181 पर कॉल करके नारी सम्मान योजना से संबंधित जो भी आपत्ति है उसे दर्ज कर सकते हैं और उससे संबंधित आपत्ति का निराकरण भी प्राप्त कर सकते हैं। आज के आर्टिकल में हम जानने का प्रयास करेंगे की नारी सम्मान योजना से संबंधित आपत्ति दर्ज करने के बाद निराकरण प्राप्त कर सकते हैं।

नारी सम्मान योजना के फॉर्म रिजेक्ट क्यों होते हैं?

नारी सम्मान योजना के फॉर्म रिजेक्ट होने में सबसे बड़ा कारण है आपके डॉक्यूमेंट में कमी और दूसरा कारण है आवेदन करने का तरीका । यदि आपके डॉक्यूमेंट में कोई गड़बड़ी है या फिर आधार कार्ड से लेकर समग्र आईडी की जानकारी मिलान नहीं खाती तो आपका फॉर्म रिजेक्ट हो सकता है । आवेदन करते समय यदि आपके आवेदन करने का तरीका गलत होगा तो भी आपका आवेदन रिजेक्ट किया जा सकता है जैसे मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड करने में यदि आपने कोई गलती कर दी तो आपका वेरिफिकेशन कंप्लीट नहीं होगा और आपका आवेदन कैंसिल हो जाएगा।

नारी सम्मान योजना की आपत्ति का निराकरण–

नारी सम्मान योजना से संबंधित आपत्ति दर्ज करने के बाद निराकरण से संबंधित मैसेज आएगा जिसमें आपको पता चलेगा कि किस तरह से आपका आवेदन निरस्त कर दिया गया है और आप दोबारा से कैसे आवेदन करेंगे ताकि आप इस योजना का लाभ ले सकें । अपने द्वारा दर्ज की गई आपत्ति का निराकरण यदि आपको ना मिले तो आप अपने पंचायत के रोजगार सहायक से संपर्क कर सकते हैं जिसके बाद आपको नारी सम्मान योजना से संबंधित आने वाली समस्या का समाधान मिल सकता है।

नारी सम्मान योजना से संबंधित कमलनाथ ने की घोषणा–

नारी सम्मान योजना से संबंधित कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी के द्वारा की गई है कि आने वाली 1 जनवरी 2024 को इस योजना की पहली भारतीय मध्य प्रदेश की महिलाओं के लिए दे दी जाएगी अभी केवल ₹1500 की राशि दी जाएगी आगे चलकर इस राशि को ₹2000 तक किया जा सकता है जिसमें ₹500 का रसोई गैस भी शामिल होगा। कमल नाथ जी के द्वारा 4 दिसंबर 2023 के दिन नारी सम्मान योजना से संबंधित जानकारी बताई जाएगी और घोषणा भी की जा सकती है ।

नारी सम्मान योजना का लाभ इन महिलाओं को नहीं मिलेगा–

नारी सम्मान योजना का आवेदन ऐसी महिलाएं कर सकती हैं जो सरकारी नौकरी नहीं करती और जिन महिलाओं की सरकारी नौकरी है उन महिलाओं को इस योजना की लाभान्वित लिस्ट में नहीं रखा गया है। सरकारी नौकरी का लाभ लेने वाली महिलाएं कमलनाथ जी के द्वारा चलाई गई इस योजना का लाभ नहीं ले सकती । नारी सम्मान योजना का लाभ लेने के लिए महिलाओं की दूसरी पात्रता यह होना चाहिए कि उनके निवास मध्य प्रदेश ही होना चाहिए जिसके लिए प्रमाण पत्र की भी आवश्यकता पड़ेगी । ऐसी महिलाएं जो नारी सम्मान योजना का लाभ लेना चाहती हैं और उनके पास एमपी का निवास प्रमाण पत्र नहीं है तो इन महिलाओं को निवास प्रमाण पत्र बनवाकर तैयार कर लेना चाहिए।