नारी सम्मान योजना की पहली किस्त कब आएगी, न्यू गाइडलाइन 2024

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव 17 नवंबर 2023 को खत्म हो चुके हैं ऐसे में पूरे मध्य प्रदेश के मन में एक सवाल है कि आखिर में नारी सम्मान योजना के पैसे कब आएंगे, तो आज की पोस्ट में हम यही बात करेंगे की नारी सम्मान योजना का लाभ कैसे लिया जाएगा और इस योजना के पैसे कब डाले जाएंगे ।

3 दिसंबर के बाद सभी के खाते में आएंगे पैसे–

मध्य प्रदेश की ऐसी महिलाएं जो नारी सम्मान योजना का लाभ लेना चाहती हैं और इस योजना के अंतर्गत जो भी महिलाएं आवेदन करेगी उनको 3 दिसंबर के बाद इस योजना का लाभ मिलेगा क्योंकि 3 दिसंबर के बाद मध्य प्रदेश की 230 सीट ऑन पर जो विधानसभा के चुनाव हुए हैं उनका परिणाम आएगा और जैसे ही चुनाव का परिणाम आएगा उसके तुरंत बाद ही इस योजना को एक्टिवेट कर दिया जाएगा ।

मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद नारी सम्मान योजना ही नहीं बल्कि प्रदेश में जितनी भी योजनाएं हैं सभी को सुचारू रूप से चलाई जाने की संभावना है और इसके अलावा नई योजनाओं का नियमन भी किया जाएगा । 3 दिसंबर 2023 के बाद एमपी की सभी महिलाओं के खाते में ₹2000 की पहली किस्त जो नारी सम्मान योजना के द्वारा मिलेगी हुआ है डाली जाएगीहालांकि इसकी तारीख तय नहीं है कि किस तारीख को मध्य प्रदेश की महिलाओं को इस योजना का पैसा मिलेगा लेकिन यह निश्चित है कि तीन दिसंबर के बाद सभी महिलाओं के खाते में पैसे आएंगे ।

नारी सम्मान योजना से एमपी की महिलाओं को एक बड़ी राहत–

बीते कुछ महीनो से मध्य प्रदेश की महिलाएं बेसब्री से इस योजना के द्वारा मिलने वाली राशि का इंतजार कर रही थी अब उनका इंतजार खत्म हो चुका है क्योंकि विधानसभा चुनाव 2023 का खत्म हो चुका है और चुनाव के बाद इस योजना को एक्टिवेट किया जाने का दावा किया गया था ऐसे में अब योजना को पुनः ऑनलाइन तरीके से शुरू कर दिया गया है पूरे एमपी में इस योजना के रजिस्ट्रेशन किए जाएंगे और आवेदन किए जाएंगे इसके बाद तुरंत ही इस योजना की राशि मिलनी शुरू हो जाएगी । महिलाओं के खाते में किस तारीख को पैसे आएंगे इसके बारे में निश्चित रूप से नहीं कहा जा सकता मगर जल्दी ही यह ऐलान किया जा सकता है कि कब से पैसे आ सकते हैं ।

प्रदेश की लड़कियों को भी मिलेगी कांग्रेस सरकार के द्वारा इसी तरह की योजना–

मध्य प्रदेश में जिस तरह से कांग्रेस सरकार ने महिलाओं को नारी सम्मान योजना के अंतर्गत₹2000 तक की आर्थिक सहायता प्रदान करने की जिम्मेदारी उठाई है इस तरह प्रदेश की लड़कियों को भी आने वाले समय में कई तरह की योजना शुरू करने का संकल्प लिया है जिससे प्रदेश की लड़कियों की विकास की गति आगे बढ़ सके और शिक्षा और रोजगार के क्षेत्र में नए मुकाम हासिल कर सके ।

नारी सम्मान योजना हो सकती है फेल–

मध्य प्रदेश की भाजपा सरकार के द्वारा जिस तरह से योजनाओं का शुभारंभ किया गया और उनको गुमराह किया गया उसे तरह से यह अंदाज लगाया जा रहा है कि उसी के विपरीत कांग्रेस सरकार ने भी नारी सम्मान योजना को शुरू किया और लॉलीपॉप बांटने जैसी स्थिति बना दी। हालांकि कांग्रेस सरकार का यह टारगेट नहीं है कि प्रदेश सरकार को लॉलीपॉप दिया जाएगा बल्कि वह एक नए आयाम के रूप में काम करना चाहती है लेकिन जनता को यह कैसे समझ आएगा क्योंकि विरोध में तो लोगों को लगता ही कि लॉलीपॉप ही बट रहा है ।

नारी सम्मान योजना कांग्रेस सरकार के द्वारा भाजपा के विपरीत चलाई गई योजना है जिसका विरोध भी होता है मगर सही मायने में उतना विरोध नहीं होता जितना किसी योजना को फेल होने के लिए होना चाहिए इस तरह से यह अंदाजा लगाया जाता है कि यह योजना शायद फेल नहीं होगी। इस योजना के फेल न होने का संकेत यह है कि पूरा मध्य प्रदेश इस योजना की तारीफ कर रहा है और इस योजना को पसंद कर रहा है।