नारी सम्मान योजना की फाइनल लिस्ट कैसे निकाले और लिस्ट में अपना नाम कैसे देखें

नारी सम्मान योजना आज के समय की मध्य प्रदेश सरकार की एक ऐसी योजना है जिसकी चर्चा गांव-गांव ,शहर– शहर, गली-गली और हर व्यक्ति की जुबान पर है । इस योजना की कितनी चर्चा इसीलिए हो रही है क्योंकि यही योजना कांग्रेस सरकार की सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाली योजना है। आज की पोस्ट में हम बात करेंगे की नारी सम्मान योजना की फाइनल लिस्ट कैसे निकाल सकते हैं और अपना नाम कैसे चेक कर सकते हैं ।

1 जनवरी 2024 से पहले करें नारी सम्मान योजना का आवेदन –

एमपी की जो महिलाएं नारी सम्मान योजना का लाभ लेना चाहती हैं और आर्थिक रूप से मजबूती की ओर आगे बढ़ना चाहती हैं तो उनके लिए बहुत ही सुनहरा अवसर है कि कमलनाथ सरकार की चलाई गई इस योजना का स्वागत करें और लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन करें । कमलनाथ सरकार के द्वारा यह निश्चित किया गया है कि 1 जनवरी 2024 को इसकी पहली किस्त ट्रांसफर कर दी जाएगी इसीलिए जो उम्मीदवार इसका लाभ लेना चाहते हैं वह इसके लिए आवेदन कर दें।

बिना पात्रता नहीं होगा नारी सम्मान योजना का आवेदन–

मध्य प्रदेश की ऐसी महिलाएं जो सरकारी पद का लाभ ले रहे हैं और साथ में नारी सम्मान योजना का लाभ भी लेना चाहती हैं तो उनके लिए यह पात्रता नहीं रखी गई है नारी सम्मान योजना की शर्तों में इस तरह की कोई भी शर्त लागू नहीं होती। नारी सम्मान योजना की पहली शर्त यह है कि यदि कोई महिला किसी सरकारी पद का लाभ लेती है अथवा सरकारी नौकरी के पद पर है तो उसे नारी सम्मान योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा ।

शिवराज सरकार की योजनाओं का लाभ लेने के बाद भी नारी सम्मान योजना का लाभ मिलेगा–

कमलनाथ सरकार ने पूरे मध्य प्रदेश को यह आश्वासन दिया है कि यदि कोई महिला शिवराज सरकार की योजनाओं का लाभ ले रही है तो वह नारी सम्मान योजना का लाभ लेने के लिए पूरी तरीके से पात्र मानी जायेंगी । कमलनाथ सरकार ने पात्रता के आधार पर ही नारी सम्मान योजना की रजिस्ट्रेशन को लागू किया है जो महिलाएं शर्तों के आधार पर रजिस्ट्रेशन नहीं करेंगी उनको इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा ।

मध्य प्रदेश की महिलाएं बनेगी एक सशक्त नारी का उदाहरण–

कमलनाथ सरकार के द्वारा सशक्त बेटी और सशक्त महिला बनाने का लक्ष्य इस योजना के द्वारा पूरा किया जाएगा क्योंकि कमलनाथ जी ने यह निश्चय किया है कि इस राशि को केवल ₹1500 ही नहीं बल्कि आगे भी बढ़ाया जा सकता है और अगर इस राशि को नहीं बढ़ाया गया तो महिलाओं के लिए कई तरह की इसी प्रकार की ऐसी योजनाओं को शुरू किया जाएगा जो उनको एक समृद्ध महिला और संपन्न परिवार के लिए निर्भर कर सके । कमलनाथ सरकार का दावा है कि इस तरह की योजनाओं को शुरू करके हम महिलाओं को आत्मनिर्भर बना सकते हैं