नारी सम्मान योजना मोबाइल से आधार और DBT सक्रिय की स्तिथि

नारी सम्मान योजना के लिए बैंक की डीबीटी सक्रिय होना बहुत ही आवश्यक है ऐसे में सबसे बड़ा सवाल है कि डीबीटी की सक्रियता को कैसे चेक करें तो इसके लिए आपको ज्यादा परेशान होने की आवश्यकता नहीं है आज के आर्टिकल में आपको बहुत ही सिंपल तरीका बताया जाएगा इसके बाद आप बैंक की डीबीटी की सक्रियता को आसानी से चेक कर पाएंगे । किसी भी योजना का लाभ लेने के लिए या फिर अपने बैंक की लेनदेन की प्रक्रिया को जारी रखने के लिए डीबीटी होना बहुत ही आवश्यक होता है ।

क्या होती है बैंक की डीबीटी?

DBT को इंग्लिश में Direct Benefit Trasfer कहते हैं इसका अर्थ हिंदी में होता है प्रत्यक्ष लाभ अंतरण जिसकी शुरुआत 2016 से की गई थी जिसमें कई तरह की योजनाओं को लाभ के उपयोग में डीबीटी के साथ ही लिया जा सकता है । डीबीटी की सक्रियता का तात्पर्य है कि आपका बैंक अकाउंट से लेनदेन चल रहा है और आपका मोबाइल नंबर भी बैंक से लिंक किया गया है ।

नारी सम्मान योजना से होने वाला लाभ–

नारी सम्मान योजना से मध्य प्रदेश की महिलाओं को आर्थिक रूप से लाभ दिया जाता है इसके पहले ऐसी कोई योजना नहीं शुरू हुई जिसमें पैसे मिलते हो । शिवराज सरकार के द्वारा पिछले 5 सालों में योजनाओं को कुछ इस तरीके से शुरू किया गया जैसे चुनावी मुद्दा बनाना हो चुनाव के लिए वोट का लाभ लेना हो इसीलिए मध्य प्रदेश की जनता ने इस बार शिवराज मामा को झूठी घोषणाओं की मशीन करार दिया । शिवराज सरकार ने फ्री में मध्य प्रदेश में राशन पानी वितरण किया इसके बाद इसमें केवल लोगों को बिना पैसे की ही राशन मिल जाता था । मगर अब कांग्रेस सरकार के द्वारा₹1500 की आर्थिक मदद प्रदान की जाएगी।

बैंक की डीबीटी को कैसे चेक करें–

बैंक की डीबीटी को चेक करने के लिए आपको ज्यादा परेशान होने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि आपको केवल समग्र पोर्टल से समग्र आईडी की ई केवाईसी करनी आती हो । समग्र पोर्टल खोलने के बाद जब आप अपनी समग्र आईडी देखने के लिए परिवार के किसी भी सदस्य की आईडी से पोर्टल को खोलेंगे तो आपको उसमें अपने ही परिवार के सभी सदस्य मिल जाएंगे ।

इसके बाद आप अपनी आईडी भी देख सकते हैं और आपको एक अंतिम विकल्प भी मिलेगा जहां से आप ई केवाईसी के लिए क्लिक कर सकते हैं।

आपको लिखा हुआ मिलेगा ई केवाईसी की स्थिति जांचें जहां से आप आगे बढ़ेंगे तो ई केवाईसी चेक करने के लिए आपको मोबाइल नंबर इंटर करना होता है और आधार नंबर इंटर करना होता है इसके बाद कैप्चा कोड डालकर आप सबमिट करेंगे तो ई केवाईसी की स्थिति आ जाएगी।

इस स्थिति में आप पाएंगे कि आपकी ई केवाईसी में क्या-क्या है और क्या-क्या नहीं है पहला ऑप्शन आधार नंबर से मोबाइल नंबर लिंक होने के लिए आएगा अगर लिंक होगा तो उसमें हां लिखा हुआ आएगा अगर नहीं होगा तो उसमें नहीं लिखा हुआ आएगा ।

इसके बाद दूसरा विकल्प आपको बैंक की डीबीटी का देखने को मिलेगा जिसमें अगर आपकी बैंक की डीबीटी कंप्लीट है तो उसमें लिखा हुआ आएगा बैंक की डीबीटी सक्रिय है अगर नहीं होगी तो उसमें लिखा होगा बैंक की डीबीटी सक्रिय नहीं है ।