कक्षा 12वीं का ब्लूप्रिंट 2024 एमपी बोर्ड बहुत बड़ा बदलाव एमपी बोर्ड न्यूज 2 जनवरी 2024

एमपी बोर्ड के द्वारा कक्षा 12वीं के विद्यार्थियों के लिए ब्लूप्रिंट में एक बहुत बड़ा बदलाव देखने को मिला है 2024 की परीक्षा के लिए 2023 की तरह निर्देश नहीं दिए जाएंगे इनमें थोड़ा सा बदलाव किया गया है जिसका ध्यान में रखकर परीक्षा के लिए बेहतर रणनीति बनाकर तैयारी करना विद्यार्थियों के लिए बहुत ही आवश्यक है। आज के आर्टिकल में हम बात करेंगे की कक्षा 12वीं का ब्लूप्रिंट 2024 की परीक्षा के लिए किस तरीके से काम करेगा और विद्यार्थियों को यह कितना लाभदायक होने वाला है ?

2023 की तरह करें परीक्षा की तैयारी–

कक्षा 12वीं के छात्र-छात्राओं के लिए 2024 की एमपी बोर्ड की परीक्षा के लिए ब्लूप्रिंट में कोई बहुत बड़ा बदलाव नहीं किया गया है जिस तरह 2023 में प्रश्न पत्र का प्रारूप रहा है और परीक्षा में प्रश्नों के पूछने का तरीका रहा है ठीक वैसे ही 2024 में परीक्षा होने वाली है। 2024 में एमपी बोर्ड के द्वारा इस बार केवल सुरक्षा को लेकर बहुत बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा जिस तरह 2023 में लापरवाही की गई थी और कई जगह है फर्जी पेपर वायरल कराकर यह दावा किया गया था कि पेपर लीक कर दिए गए हैं । 2024 में एमपी के नए मुख्यमंत्री मोहन यादव जी हैं जिनके द्वारा यह आश्वासन दिया गया है की परीक्षाओं को बहुत ही सुरक्षात्मक रूप से किया जाएगा जिसमें कोई भी दिक्कत नहीं आएगी।

2024 में कैसा रहेगा ब्लूप्रिंट–

जिस तरह 2023 में एक अंक के बहुविकल्प के प्रश्नों से लेकर पांच अंको बड़े प्रसन तक परीक्षा में प्रश्न पत्र को जारी किया गया था ठीक वैसे ही 2024 में विद्यार्थियों के लिए वैसे ही बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाएंगे और दो अंक के साथ-साथ तीन अंकों वाले प्रश्न भी उसी तरह पूछे जाएंगे। किसी भी विद्यार्थी को ज्यादा घबराने की आवश्यकता नहीं है एक बेहतर रणनीति के साथ और मेहनत के साथ परीक्षा की तैयारी करना है जिसका लाभ आपको परीक्षा में जरूर मिलेगा।

2022-23 के ब्लू प्रिंट अनुसार ही 2023-24 के पेपर आएंगे

PDF Link –

कक्षा 12वीं ब्लूप्रिंट की खास बातें –

ब्लूप्रिंट के द्वारा विद्यार्थियों को बहुत ही ज्यादा फायदा परीक्षा की तैयारी के दौरान होता है क्योंकि कई बार विद्यार्थियों के लिए ऐसे प्रश्नों को पढ़ना बेकार हो जाता है जहां से प्रश्न आना सुनिश्चित नहीं किया गया है। ऐसे में विद्यार्थियों को यह समझना बहुत आवश्यक होता है कि किस अध्याय से कितने अंको का पूछा जाना है और कौन से प्रश्न पूछे जा सकते हैं जिसके लिए ब्लूप्रिंट को समझना अति आवश्यक होता है।

  1. ब्लूप्रिंट के माध्यम से विद्यार्थियों को अध्याय के बारे में और यूनिट के बारे में पता चलता है जिसमें साफ तौर पर लिखा जाता है कि कितने अंको के प्रश्न और कौन से प्रश्न पूछे जा सकते हैं
  2. जिस अध्याय से केवल बहुविकल्पीय तीन प्रश्न पूछे जाएंगे तो उसे अध्याय से कोई भी बड़ा प्रश्न संभवत नहीं पूछा जाएगा क्योंकि उसे ब्लूप्रिंट में साफ तौर पर दिया गया है कि यहां से तीन विकल्प पूछे जाएंगे तो निश्चित तौर पर एक अंकों के प्रश्न पूछे जाने सुनिश्चित है हालांकि इसमें यह नहीं आता कि एक अंकों में रिक्त स्थान वाला प्रश्न पूछा जाएगा या फिर सही जोड़ी या फिर विकल्प कुल मिलाकर ऐसा प्रश्न पूछा जाएगा जो की एक अंकों के लिए होता है।
  3. ब्लूप्रिंट के द्वारा परीक्षा के समय बहुत ही कम समय में रिवीजन करने का बहुत बड़ा फायदा मिलता है क्योंकि पूरी किताब पढ़ने से कहीं ज्यादा परीक्षा के टाइम पर यह जरूरी होता है कि जो परीक्षा में पूछा जाना है केवल उसी को दोहरा लिया जाए ।

सेम्पल पेपर्स से संबंधित बोर्ड का नोटिफिकेशन -PDF करें डाउनलोड