एमपी बोर्ड कक्षा 10 एवं 12वीं एडमिट कार्ड डाउनलोड mpbse.nic.in

जैसा कि सभी को पता है कि मध्य प्रदेश में 10वीं और 12वीं की विद्यार्थियों के लिए वार्षिक परीक्षा का आयोजन फरवरी के अंतिम सप्ताह से शुरू कर दिया जाता है । आज के आर्टिकल में हम बात करेंगे की 10वीं और 12वीं के विद्यार्थी एमपी बोर्ड की ऑफिशल वेबसाइट से एडमिट कार्ड को कैसे डाउनलोड कर सकते हैं । एडमिट कार्ड को प्रवेश पत्र के नाम से भी जाना जाता है और यह प्रवेश पत्र विद्यार्थी को परीक्षा में प्रवेश लेने के लिए दिया जाता है । एडमिट कार्ड में विद्यार्थी की सामान्य जानकारी होती है और सभी विषयों का कोड भी दिया जाता है इसे सुरक्षित रखना विद्यार्थी की पहली जिम्मेदारी होती है।

एडमिट कार्ड को डाउनलोड करने का तरीका–

बोर्ड एग्जाम के लिए कक्षा 10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों के लिए एडमिट कार्ड को डाउनलोड करना बहुत आसान है क्योंकि इसके लिए आपको किसी भी ब्राउज़र पर एमपी बोर्ड की ऑफिशल वेबसाइट mpbse.nic.in को सर्च करना है जिसके बाद आपको डाउनलोड एडमिट कार्ड का बटन मिलेगा जहां से जाकर आप जनरल इनफार्मेशन को भरकर कैप्चा कोड के माध्यम से एडमिट कार्ड को डाउनलोड कर सकते हैं । आपके द्वारा किया गया डाउनलोड एडमिट कार्ड एक तरह से वर्चुअल एडमिट कार्ड होगा क्योंकि इस एडमिट कार्ड में आपके अध्ययन करने वाले विद्यालय के प्राचार्य के हस्ताक्षर नहीं होंगे। प्राचार्य के हस्ताक्षर के किसी भी विद्यार्थी के एडमिट कार्ड को मान्य नहीं किया जाता ।

ऑफिशियल वेबसाइट mpbse.nic.in
Admit Card आए या नहीं नहीं आए अभी तक
डाउनलोड किए एडमिट कार्ड मान्यनहीं
प्रवेश पत्र कब आएंगे 25 जनवरी को

एडमिट कार्ड की आवश्यकता–

एडमिट कार्ड विद्यार्थियों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है क्योंकि अगर एडमिट कार्ड खो गया तो उसे दोबारा तुरंत नहीं बनाया जा सकता और उसकी प्रक्रिया भी बहुत लंबी होती है । एडमिट कार्ड कंप्लीट होने से पहले वह कई चरणों से होकर निकलता है और कई तरह से उसे वेरीफाई किया जाता है इसीलिए एडमिट कार्ड बहुत ही महत्वपूर्ण होता है विद्यार्थियों की पहली जिम्मेदारी होती है कि वह एडमिट कार्ड को बड़ी ही जिम्मेदारी से संभाले और सुरक्षित रखें।

एमपी बोर्ड की परीक्षा में एडमिट कार्ड का महत्व–

एडमिट कार्ड केवल परीक्षा में किसी भी विषय के पेपर को हल करने के लिए रोल नंबर भरने के लिए नहीं होता है बल्कि जिस दिन से पेपर शुरू होते हैं उसे दिन से हुआ है हमेशा के लिए लाभदायक होता है क्योंकि कभी भी उसमें दी गई जानकारी बहुत ही आवश्यक हो सकती है और उसे कभी भी उपयोग में लाया जा सकता है ।

इन्हें भी पढ़िए –

ऑनलाइन निकला हुआ एडमिट कार्ड कितना मान्य?

एमपी बोर्ड की ऑफिशल वेबसाइट के माध्यम से निकलने वाले एडमिट कार्ड की मान्यता उतनी ही होती है जितनी विद्यालय के द्वारा दी जाती है मगर दोनों एडमिट कार्ड में विद्यालय के प्राचार्य के हस्ताक्षर होना बहुत ही आवश्यक होता है। विद्यार्थियों के लिए सबसे बढ़िया यह होता है कि जो भी एडमिट कार्ड विद्यालय के द्वारा प्रदान किया जाता है उसे ही संभाल कर रखें और परीक्षा में उपयोग करने के बाद उसे सुरक्षित रख लें ताकि आने वाले समय में रिजल्ट देखने के लिए वह काम आ सके ।