12वीं में स्कूटी पाने के लिए लानी होगी इतनी प्रतिशत ? 2024 एमपी बोर्ड मोहन यादव ने की घोषणा

मध्य प्रदेश सरकार के द्वारा 85% से अधिक अंक हासिल करने वाले 12वीं छात्राओं को स्कूटी देने की घोषणा की गई है शुरुआत में जब इस योजना को शुरू किया गया था तब 90% अंक हासिल करना स्कूटी योजना में शामिल होने के लिए आवश्यक थे लेकिन फिर इसे घटकर 85% कर दिया गया है। आज के आर्टिकल में हम बात करेंगे की 12वीं की छात्राओं को स्कूटी कब प्रदान की जाती है और स्कूटी योजना में शामिल होने के लिए कौन-कौन से योग्यताएं होना जरूरी है ?

अंक हासिल करने का प्रतिशतस्कूटी योजना में शामिल होने के लिए आवश्यकता
90%शुरुआत में
85%फिर इसे घटकर

स्कूटी योजना में शामिल होने के लिए छात्राओं की योग्यता–

  • स्कूटी योजना में जैसे भी छात्र को स्कूटी प्रदान की जाती है उसको आवेदन से पहले यह जरूर देख लेना चाहिए कि उसके परिवार की आय कितनी हैं अगर परिवार की आय ढाई लाख रुपए से कम है तो ही स्कूटी प्रदान की जाएगी अन्यथा स्कूटी के लिए आवेदन नहीं हो पाएगा।
  • दूसरी योग्यता यह है कि छात्राओं की एमपी बोर्ड की परीक्षाओं में 85% से कम अंक नहीं होना चाहिए अगर 85% से कम अंक किसी छात्र के होंगे तो उसको स्कूटी नहीं दी जाएगी ।
  • अगर एक से अधिक छात्राओं के अंक एक जैसे हैं तो उसमें अधिक उम्र वाली छात्रा को प्रेफर किया जाएगा अर्थात जब एक जैसी कक्षा की छात्राओं के अंक प्रतिशत में एक समान होंगे तो अधिक उम्र वाली छात्रा को स्कूटी दी जाएगी।
प्रतिशतस्कूटी
90-100हाँ
85 -89हाँ
70-79नहीं
60-69नहीं
50-59नहीं
40-49नहीं
0-39नहीं

स्कूटी योजना की शुरुआत–

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा स्कूटी की योजना को शुरू किया गया था और 2023 में लगभग 8000 की संख्या में छात्राओं को स्कूटी प्रदान की गई । स्कूटी योजना को लॉन्च करते वक्त शिवराज मामा ने बयान दिया था कि मैं एक मंत्री नहीं बल्कि बेटियों का मामा हूं और एक सरकार नहीं चलता बल्कि एक परिवार चलाता हूं।

वर्षक्रियावलीस्कूटी दी गई छात्राओं की संख्या
2023स्कूटी योजना शुरू की गईलगभग 8000

इन्हें पढ़िए –

2024 में नए मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव जी के द्वारा यह बयान दिया गया है कि शिवराज मामा के द्वारा शुरू की गई जितनी भी योजनाएं हैं उनको किसी को भी बंद नहीं किया जाएगा सरकार के पास पर्याप्त बजट है अगर बजट नहीं होगा तो उसके लिए कर्ज भी उठाना पड़ेगा तो उठा लिया जाएगा मगर योजनाओं को पूरा किया जाएगा। मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव जी के द्वारा भी स्कूटी योजना को आगे बढ़ाया जाएगा और आगे चलकर स्कूटी योजना में थोड़ी बहुत बदलाव भी देखने को मिल सकता है लेकिन अभी इसके लिए कोई भी बयान सरकार की तरफ से नहीं आया है इसीलिए पिछली बार की तरह 85% से अधिक अंक हासिल करने वाली छात्राओं को स्कूटी प्रदान की जाएगी।

फ्री स्कूटी मिलने से लड़कियों को लाभ–

12वीं की परीक्षा देने के बाद जिन लड़कियों को स्कूटी मिलने का मौका मिलता है उनके लिए सबसे बढ़िया फायदा होता है ग्रेजुएशन के दौरान क्योंकि ग्रेजुएशन में रोज कॉलेज जाने में लगभग आने-जाने में काफी किराया खर्च हो जाता है और यह प्रक्रिया रोज होती है इस वजह से शिक्षा में काफी परेशानियां खड़ी होजाती हैं।

विशेषताविवरण
वाहन प्रकारइलेक्ट्रिक स्कूटी
चार्ज क्षमताबैटरी को चार्ज करने के बाद लगभग 200 किलोमीटर से भी ज्यादा चल सकती है
उपयोग क्षमताकॉलेज के दायरे लगभग 50 किलोमीटर से भी कम
योजना का लाभ सुविधाजनक और बेनिफिशियल है