एमपी आंगनवाड़ी भर्ती 2024 के लिए व्यापम की गाइडलाइन जारी, फरवरी 2024 में आएंगे 3700 पद

मध्य प्रदेश आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए भर्ती शुरू हो चुकी है जिसके लिए सरकार के द्वारा गाइडलाइन जारी कर दी गई है । मध्य प्रदेश
सरकार के द्वारा लगभग 3700 पदों के ऊपर भर्ती होने वाली है जिसके लिए आपको मध्य प्रदेश व्यापम के माध्यम से भर्ती कराया जा सकता है । आंगनवाड़ी कार्यकर्ता के साथ आंगनवाड़ी सुपरवाइजर और आंगनबाड़ी शिक्षक के साथ-साथ आंगनबाड़ी प्रबंधक के पदों पर भर्ती होने वाली है। आज के आर्टिकल में हम जानेंगे कि 2024 के शुरुआती महीने में ही नए मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव जी के द्वारा किस तरह से आंगनबाड़ी के लिए भर्ती की जाएगी ।

आंगनबाड़ी भर्ती के लिए आवश्यक दस्तावेज

आंगनबाड़ी भर्ती के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट में सबसे पहले समग्र आईडी की आवश्यकता होती है इसके अलावा रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर की आवश्यकता होती है जो आधार कार्ड से लिंक होता है। इसके अलावा पासपोर्ट साइज फोटो, बैंक पासबुक, और आधार कार्ड की आवश्यकता होती है। आंगनबाड़ी भर्ती के लिए प्रयोग में होने वाले आवश्यक डॉक्यूमेंट इस प्रकार हैं–

1.आधार कार्ड
2.पैन कार्ड
3.बैंक पासबुक

4.स्थाई निवास प्रमाण पत्र
5.जाति प्रमाण पत्र
6.मोबाइल नंबर समग्र आईडी
7.कक्षा दसवीं अंक सूची
8.कक्षा 12वीं अंक सूची
9.ग्रेजुएशन मार्कशीट
10.आवेदक के हस्ताक्षर

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की आयु सीमा

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए आयु सीमा को लगभग 21 वर्ष से लेकर 60 वर्ष के अंतर्गत रखा गया है इसके अलावा कुछ शर्तों में महिलाएं 18 वर्ष के बाद भी आवेदन कर सकती हैं । आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए शुरुआती सैलरी₹9000 से लेकर ₹10000 तक होती है इसके अलावा धीरे-धीरे इसकी सैलरी में बढ़ोतरी होती है और यह लगभग 18000 से लेकर ₹20000 तक हो जाती है।

आंगनबाड़ी भर्ती 2024

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए भर्ती को लगभग 6000 पदों पर किया जाना सुनिश्चित किया है । धीरे-धीरे यह भर्ती 1 साल के अंदर पूरी की जाएगी । आंगनबाड़ी भर्ती के साथ-साथ मुख्यमंत्री मोहन यादव जी के द्वारा यह घोषणा की गई है कि आने वाले समय में कई क्षेत्रों में लोगों को अवसर प्रदान किए जाएंगे जिससे उनका रोजगार प्राप्त हो सके ।

आंगनबाड़ी पदों के लिए संख्या

आंगनवाड़ी वैकेंसी 2024 के लिए अभी केवल 37 पदों पर भर्ती किया जाना तय हुआ है लेकिन आगे चलकर धीरे-धीरे इसे बढ़ाकर 1 साल के अंदर 6000 पदों पर कंप्लीट किया जाएगा । नए मुख्यमंत्री मोहन यादव जी के द्वारा एमपी की जनता को यह आश्वासन दिया गया है कि रोजगार के सबसे ज्यादा अवसर प्रदान किए जाएंगे ताकि प्रदेश में बेरोजगारी जैसी समस्या पैदा ही ना हो।