लाड़ली बहना आवास योजना में समग्र आइडी की ये गलती पड़ेगी भारी , पहली किस्त पाने के लिए करें ये काम

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा शुरू की गई लाडली बहना आवास योजना में अब फिर से एक बार प्रक्रिया को शुरू किया गया है क्योंकि चुनाव के टाइम पर इसे कुछ समय के लिए स्थगित कर दिया गया था। मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव जी के द्वारा यह घोषणा की गई है कि इस योजना का लाभ लेने के लिए समग्र आईडी की गलती नहीं होना चाहिए अन्यथा इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा । आज की आर्टिकल में हम जानेंगे कि समग्र आईडी में उम्मीदवार की क्या गलती नहीं होना चाहिए और लाभार्थी कैसे इस योजना का लाभ ले सकते हैं ।

समग्र आईडी में होने वाली गलती से रहें सावधान–

समग्र आईडी में सबसे पहली गलती यह नहीं होना चाहिए कि उसमें जो भी जानकारी उपलब्ध है वह आधार कार्ड से मैच ना हो । आधार कार्ड में और समग्र आईडी में वही जानकारी होना चाहिए जो अन्य डॉक्यूमेंट में हो लगभग कहने का तात्पर्य यह है कि जो भी डॉक्यूमेंट योजना के आवेदन में लगाए जाने हैं उनमें सभी में एक समान जानकारी होना चाहिए ।

समग्र आईडी के द्वारा यह पता चल जाता है कि आपके बैंक खाते की डीबीटी कंप्लीट है या नहीं इसीलिए आप समग्र आईडी की केवाईसी जरूर करवा लें अगर आपकी केवाईसी करवा लेते हैं तो उसे पता चलता है कि आपके डॉक्यूमेंट में कोई कमी रह गई या नहीं।

बैंक खाते की डीबीटी कंप्लीट जरूर कराएं –

किसी भी योजना का लाभ लेने के लिए बैंक खाते की डीबीटी कंप्लीट जरूर होना चाहिए अगर बैंक खाते की डीबीटी कंप्लीट नहीं है तो योजनाओं का लाभ मिलना असंभव है। बैंक खाते की डीबीटी करवाने के लिए आप अपने ग्राम पंचायत के रोजगार सहायक से संपर्क कर सकते हैं और आप स्वयं बैंक जाकर भी डीबीटी कंप्लीट कर सकते हैं । डीबीटी का अर्थ होता है डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर जिसके माध्यम से आप को सरकारी योजनाओं का डायरेक्ट लाभ प्राप्त होता है ।

ये भी पढ़ें – लाड़ली बहना योजना की 8वीं किस्त एवं आवास योजना की पहली किस्त दोनों आएगी एक साथ , सीएम मोहन यादव ने दी खुशखबरी

लाडली बहनों के लिए एक और बड़ी खुशखबरी–

लाडली बहनों के लिए मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव जी के द्वारा एक बड़ी खुशखबरी प्रदान की गई है जिसमें उन्होंने बताया है कि इस योजना के तहत सभी को फ्री में घर दिया जाएगा। लाडली बहनों के लिए नए मुख्यमंत्री मोहन यादव ने इस योजना का लाभ देने के लिए बजट इकट्ठा करने में बहुत सारे प्रयास जारी कर दिए हैं । डॉ मोहन यादव ने यह निर्णय लिया है कि चाहे लोगों के लिए कर्ज ही क्यों ना लेना पड़े मगर योजनाओं को पूरा किया जाएगा।

लाडली बहनों के लिए एक और बड़ी समस्या–

लाडली बहनों के लिए एक बार फिर नए मुख्यमंत्री मोहन यादव जी के द्वारा यह आश्वासन दिया गया है कि जिनको भी आवास योजना का लाभ लेना है उनके लिए बहुत ही सुनहरा अवसर है उन सभी को डॉक्यूमेंट तैयार करके रखना चाहिए और इसके लिए आवेदन कर देना चाहिए। नए मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने बताया है कि चाहे एमपी की जनता के लिए कर्ज ही क्यों लेना पड़े मगर योजनाओं को पूरा किया जाएगा।