कमलनाथ सरकार के द्वारा ‘नारी सम्मान योजना’ में मिलेगा जातिगत जनगणना का लाभ

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने यह ऐलान किया है कि मध्य प्रदेश में जातिगत जनगणना होना चाहिए । उन्होंने दावा किया है कि मध्य प्रदेश में 55 फ़ीसदी ओबीसी वर्ग होने की बावजूद भी उनको 27 प्रतिशत आरक्षण नहीं मिल पा रहा इसीलिए एमपी में जातिगत जनगणना होना अनिवार्य है । आई जानने का प्रयास करते हैं कि मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जातिगत जनगणना के अलावा क्या-क्या घोषणाएं की हैं ।

कमलनाथ शिक्षकों के लिए करेंगे हर संभव प्रयास–

कांग्रेस सरकार मध्य प्रदेश में शिक्षकों के लिए हर संभव प्रयास करेगी चाहे उनकी पुरानी पेंशन योजना हो या फिर अतिथि शिक्षकों से संबंधित कोई भी प्रावधान । शिवराज सरकार के द्वारा पुरानी पेंशन योजना को बंद कर दिया गया है जिस वजह से मध्य प्रदेश के सरकारी कर्मचारी यह गुहार लगा रहे हैं कि फिर से पुरानी पेंशन योजना को शुरू किया जाना चाहिए । कमलनाथ सरकार ने यह दावा किया है कि उनकी सरकार बनते ही पुरानी पेंशन योजना लागू हो जाएगी ।

शिवराज सरकार भूली शिक्षकों की वादे –

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पिछले कई वर्षों पहले एमपी के शिक्षकों से कई तरह के वादे किए थे लेकिन उनमें से किसी भी एक वादे को निभाने में असमर्थ रहे । मध्य प्रदेश के युवा वर्ग बहुत ही नाखुश हैं और शिवराज सरकार से यह सवाल करते हैं कि उन्होंने शिक्षक भर्ती में इतनी देर क्यों लगा दी। शिवराज सरकार ने मध्य प्रदेश के शिक्षकों से यह वादा किया था कि उनको पुरानी पेंशन का लाभ दिया जाएगा मगर उनको किसी भी योजना का लाभ नहीं मिला ।

कांग्रेस सरकार एमपी में करेगी बड़ा खेल–

मध्य प्रदेश में एक बार फिर कांग्रेस की सरकार के द्वारा यह दावा किया गया है कि उनकी सरकार बनने के बाद मध्य प्रदेश में कई सारी योजनाओं को लागू किया जाएगा जिनको शिवराज सरकार ने बंद कर दिया उनको भी पुनः लागू किया जाएगा।

एमपी में निकलेगी शिक्षकों की भर्ती–

कांग्रेस सरकार के द्वारा यह ऐलान किया गया है कि उनकी सरकार बनते ही मध्य प्रदेश में शिक्षक भर्ती की जाएगी जिसका परीक्षा परिणाम परीक्षा होने के तुरंत बाद समय से जारी किया जाएगा । बीते पिछले सालों में जिस तरह से शिवराज सरकार के द्वारा प्रतियोगी परीक्षाओं को जारी किया गया उसे हिसाब से परीक्षा परिणाम जारी नहीं किया है लेकिन कांग्रेस सरकार ने यह है ऐलान किया है कि समय से परीक्षा परिणाम जारी कर दिया जाएगा ।

शिक्षक भर्ती के अलावा कांग्रेस सरकार के द्वारा आरक्षक भर्ती को भी तुरंत निकाला जाएगा । कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ नया है घोषणा की है कि उनको सरकार में रहते किसानों के लिए कई बड़ी योजनाएं शुरू करना है जिनका उन्होंने अभी से शुरू कर दिया है ।

कमलनाथ के सामने शिवराज सरकार हुई फेल –

मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले शिवराज सरकार ने लॉलीपॉप दिखने जैसे काम कर दिए हैं क्योंकि बीते 4 साल में जितनी योजनाओं को शिवराज सरकार ने शुरू नहीं किया उससे कहीं ज्यादा पिछले 1 साल में उन्होंने शुरू कर दिया है । योजनाओं का शुभारंभ शिवराज सरकार ने तब किया जब एमपी में विधानसभा चुनाव होना है।

Leave a Comment