सीएम मोहन यादव ने ली बैठक, चुनावी वादों को पूरा करने पर लगी मुहर, 15000 करोड़ रुपए लगेंगे वादे पूरा करने में

मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री मोहन यादव जी के द्वारा प्रदेश की जनता के लिए यह आश्वासन दिया गया है कि चल रही पुरानी योजनाओं को बंद नहीं किया जाएगा चाहे उसके लिए कितना भी बजट समेट कर मध्य प्रदेश का भविष्य सुधारना पड़े। बीते कुछ दिन पहले शिवराज सरकार की योजनाओं को बंद करने जैसे हालात पैदा हो रहे थे इसके विरोध में स्वयं शिवराज सिंह चौहान के द्वारा यह बयान दिया गया कि आपको इस तरह की योजनाओं को बंद नहीं करना चाहिए मैंने जो वादा किया था आप उसे वादा को पूरा करें क्योंकि आपको पार्टी का मुखिया बनाया गया है। आज के आर्टिकल में जानेंगे कि डॉक्टर मोहन यादव के द्वारा ली गई बैठक में क्या-क्या तय किया गया है।

शिवराज सिंह चौहान का दिया गया हर वादा होगा पूरा –

शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा विधानसभा चुनाव 2023 के पहले पूरे प्रदेश में कई तरह की योजनाओं को शुरू किया गया जिसमें महिलाओं को ₹1000 प्रति महीना दिए जाने की शुरुआत भी कर दी गई थी जो अभी चल रही है। शिवराज सरकार ने लाडली बहनों के लिए यह वादा किया था कि इस योजना के चलते आपको ₹1000 से लेकर धीरे-धीरे बढ़कर ऐसे ₹3000 तक कर दिया जाएगा ताकि आप लोगों की आर्थिक स्थिति अच्छी हो सके ।

विधानसभा चुनाव समाप्त होने के बाद नए मुख्यमंत्री के तौर पर डॉक्टर मोहन यादव को चुना गया इसके बाद मोहन यादव जी के द्वारा यह निर्णय लिया गया कि इस तरह की योजनाओं को बंद किया जाएगा तो बाद में फिर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसका विरोध किया और कहा कि आप को पार्टी का बड़ा नेता बनाया गया है इसके लिए आपको इस तरह की योजनाओं को बंद नहीं करना चाहिए । इसका सम्मान करते हुए डॉक्टर मोहन यादव जी के द्वारा यह निर्णय लिया गया की पुरानी चल रही योजनाओं को बंद नहीं किया जाएगा उनको आगे ले जाकर पूरा किया जाएगा ।

डॉ मोहन यादव का मुख्यमंत्री बनने के बाद प्रदेश के लिए पहला प्रयास–

डॉ मोहन यादव जी के द्वारा प्रदेश में मुख्यमंत्री बनने के बाद सबसे पहले घोषणा यह की गई की मंदिर मस्जिद में चल रहे और प्रदूषण को बढ़ावा देने वाले सभी प्रकार के डीजे और साउंड को हटा दिया जाए ताकि शोर प्रदूषण जैसी समस्या पैदा ना हो। मोहन यादव के द्वारा जो निर्णय लिया गया उसे प्रदेश की जनता ने सपोर्ट भी किया और धार्मिक तीर्थ स्थलों में जो शोर को बढ़ाने वाले स्पीकर लगे हुए थे उनका स्वयं मंदिरों के पुजारी ने सम्मान के साथ निकाल दिया है। बड़े-बड़े स्पीकर से मंदिरों के आसपास निवास करने वाले विद्यार्थियों को इसका नुकसान उठाना पड़ता था क्योंकि स्पीकर पढ़ाई के दौरान उनका बाधा उत्पन्न करते थे।

Note, Also Read This -: 3 हजार रुपए का वादा निभाओ लाड़ली बहना योजना का , सीएम मोहन यादव के लिए उत्पन्न गंभीर संकट

नए मुख्यमंत्री मोहन यादव जी के कार्य करने का तरीका–

नए मुख्यमंत्री के कार्य करने का तरीका मध्य प्रदेश की जनता को काफी अच्छा लग रहा है क्योंकि उन्होंने मुख्यमंत्री बनने के तुरंत बाद से जो भी घोषणा की थी उसको पूरा करने में देर नहीं की ।

शिवराज सरकार की योजनाओं को पूरा करने के लिए उठाएंगे कर्ज–

शिवराज सरकार के द्वारा जो चुनावी वादे किए गए थे जिसके बाद मध्य प्रदेश में भाजपा पार्टी की सरकार बनी उसको पूरा करने के लिए नए मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव जी के द्वारा यह घोषणा की गई है कि चल रही योजनाओं को बड़ा करने के लिए अगर 15000 करोड रुपए का कर्ज भी लेना पड़ेगा तो उसको लिया जाएगा और प्रदेश में सभी योजनाओं को पूरा किया जाएगा ।